Press "Enter" to skip to content

“ब्राह्मण” नेहरू की शादी का कार्ड : न ॐ न गणेश, और सबकुछ उर्दू में, ये है “दत्तात्रेय गोत्र के कॉल ब्राह्मण”, जो होता ही नहीं

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Marriage Card of Nehru
Marriage Card of Nehru

Marriage Card of Nehru : जब हिन्दुओ में शादी होती है तो शादी के कार्ड पर ॐ और श्री गणेश जरूर बना होता है, उसमे मंगल सन्देश भी लिखा होता है, भगवान् विष्णु के सन्देश भी होते है, पर मुसलमानो की शादी के कार्ड में ये सब नहीं होता, वहां उनके हिसाब से चीजें लिखी हुई होती है 

आज हम आपको नेहरू की शादी का कार्ड दिखा रहे है जो उनके अब्बू मोतीलाल ने छपवाया था, शादी का पूरा कार्ड ही उर्दू में छापा गया था, और हर चीज उर्दू में यहाँ तक की शादी के समारोह के दिनांक भी उर्दू में ही लिखे गए थे, देखिये नेहरू की शादी का कार्ड


पहले कार्ड में ये लिखा है – इल्तिजा है कि बरोज़ शादीबरखुर्दार जवाहर लाल नेहरू तारीख 7 फरवरी सन् 1916, बवक़्त 4 बजे शामजनाब मआ अज़ीज़ानग़रीब ख़ाना पर चा नोशी फ़रमा करब हमरही नौशा दौलत ख़ाना समधियान पर तशरीफ़ शरीफ़ अरज़ानी फ़रमाएंबंदा मोती लाल नेहरू वेडिंग कैम्पअलीपुर रोड, दिल्ली

Marriage Card of Nehru
Marriage Card of Nehru

दूसरा दावत नामा जो कि मोतीलाल नेहरू की तरफ से मेहमानों को आनंद भवन (इलाहाबाद) में बुलाते हुए छपवाया गया था, उसे भी देखियेः तमन्ना है कि बतक़रीब शादी बरख़ुर्दार जवाहर लाल नेहरू साथ दुख़्तर जवाहर मल कौलबमुक़ाम देहली बतारीख़ 7 फरवरी, सन् 1916 व तक़ारीबमाबाद बतवारीख़ 8 और 9 फरवरी, सन् 1916 जनाब मआ अज़ीज़ान शिरकत फ़रमा करमुसर्रत और इफ़्तेख़ार बख़्शेंबंदा मोती लाल नेहरूमुंतज़िर जवाब आनंद भवन इलाहाबाद

Marriage Card of Nehru
Marriage Card of Nehru
loading...

तीसरा कार्ड बहुरानी यानी कमला कौल के स्वागत कार्यक्रम से संबंधित था जिसमें खाने के इंतेजाम का जिक्र था और अजीज लोगों से दावत में शामिल होने की गुजारिश थी। ये कार्ड दो पन्नों में छपा था। कार्ड के शब्द इस प्रकार से हैः

Marriage Card of Nehru
Marriage Card of Nehru

शादी बरख़ुर्दार जवाहर लाल नेहरू साथ दुख़्तर जवाहर मल कौल साहब, आरज़ू है कि बतक़रीब आमदन बहूरानीतारीख़ 9 फ़रवरी, सन् 1916 बवक़्त 8 बजे शामजनाब मअ अज़ीज़ान ग़रीबख़ाना पर तनावुल मा हज़र फ़रमा करमुसर्रत व इफ़्तेख़ार बख़्शेंबंदा मोती लाल नेहरूनेहरू वेडिंग कैम्प अलीपुर रोड, देहली

loading...

नेहरू की शादी के कार्ड से आप  सकते है की नेहरू की शादी में माहौल क्या रहा होगा, ऐसा लगता है की ये किसी पंडित की शादी का कार्ड है, जिसमे इस्लामिक इत्र तो खूब महक रहा है, पर हिन्दू मंत्र, ॐ, गणेश सबकुछ ही गायब है

One Comment

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!