Press "Enter" to skip to content

असम को बांग्लादेशियों से साफ़ करने की तैयारी पूरी, खदेड़े जायेंगे 1 करोड़ से ज्यादा बांग्लादेशी

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें


अगर आप जनगड़ना के आंकड़ों को देखेंगे तो असम की जनसँख्या 3 करोड़ 29 लाख के आसपास थी 2011 में, परन्तु इसमें करोडो की संख्या में बांग्लादेशी भी थे, जिन्हे कांग्रेस ने सालों तक असम में वोट बैंक के लिए घूँसाया और यहाँ सरे दस्तावेज भी दे दिए, भारत का नागरिक बना दिया 

परन्तु बंगलादेशीयों का उत्पात इतना बढ़ गया की असम के हिन्दुओ की नींद खुली और उन्होंने असम में बीजेपी की सरकार बनवाई, जिसके बाद सरकार ने असम में अवैध बांग्लादेशियों की पहचान का काम शुरू किया, कौन असम का नागरिक है और कौन घुसबैठिया है उसकी पहचान शुरू हुई, और असम की सरकार ने अब 3 करोड़ 29 लाख लोगों में से उन लोगों की पहचान कर ली जो असल में असम के नागरिक है और 3 करोड़ 29 लाख में से 1 करोड़ 91 लाख लोग असल नागरिक है 

अर्थात कुल मिलाकर सरकार ने 1 करोड़ 38 लाख बांग्लादेशियों की पहचान की है, यानि असम से 1 करोड़ से अधिक वांग्लादेशी अब भगाये जायेंगे, और सरकार ये कार्यवाही बहुत ही जल्द करने वाली है, चूँकि सरकार ने असम में भारी पैमाने पर सुरक्षाबलों की तैनाती शुरू कर दी है 

क्यूंकि सरकार जानती है की जब बांग्लादेशियों को भगाया जायेगा तो ये कटरपंथी दंगे करेंगे, खून खराबा करेंगे, इसी से निपटने के लिए सर्कार पहले तैयारी कर रही है, सुरक्षाबलों द्वारा पुरे असम को किला बनाया जा रहा है, और उसके बाद सरकार 1 करोड़ से अधिक बंगलादेशीयों को जिन्हे कांग्रेस ने घुसाया, वोटर वार्ड, आधार और न जाने क्या क्या बनाया उन्हें भगाया जायेगा 

असम की अभी आबादी 3 करोड़ 29 लाख है, परन्तु 1 करोड़ 38 लाख बंगलादेशीयों को भगाये जाने के बाद असम की आबादी 2 करोड़ से कम रह जाएगी, और असम मुस्लिम वोटबैंक की राजनीती से हमेशा के लिए ऊपर उठ जायेगा, और बांग्लादेशी आतंक असम से ख़त्म होगा 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!