Press "Enter" to skip to content

आगरा : दलित महिला एंकर को छेड़ने वाले मोहम्मद उबेद और मोहम्मद शादाब हुए गिरफ्तार

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें


आपको आज हम पहले 5  उदाहरण  बताते है, दिल्ली की गुरमेहर का केस – मीडिया ने बढ़चढ़कर दिखाया गुरमेहर कौर को महान बनाया और बाद में वो निकली झूठी और अर्बन नक्सली, टुकड़े टुकड़े गैंग की मेंबर, इसके अलावा दिल्ली की आम आदमी पार्टी से जुडी जसलीन कौर का भी काण्ड मीडिया ने बढ़चढ़कर दिखाया उसे महान बताया और बाद में जसलीन कौर भी झूठी निकली 

इसके अलावा मीडिया ने रोहतक की मर्दानी बहनो की बकवास भी दिखाई और मीडिया की मर्दानी बहने  बाद में क्या निकली ये आप जानते ही है, इसके अलावा मीडिया ने चंडीगढ़ में एक आईएएस की बेटी से छेड़छाड़ का भी बकवास बताया और बीजेपी के एक नेता के बेटे को फंसाया, बाद में आईएएस की बेटी कोर्ट में झूठी साबित हुई, और अभी हाल ही में जयरा वसीम का मामला, मीडिया ने इसे भी बढ़ चढ़कर दिखाया, एक हिन्दू व्यक्ति के बच्चों को बताया गया की उनका बाप बलात्कारी है, दरिंदा है

मीडिया झूठे छेड़छाड़ के मामलो को बढ़ चढ़कर दिखाती है बताती है, और जब उसकी पोल खुल जाती है तो हमारी नीच मीडिया माफ़ी भी नहीं मांगती है, इन्ही हरकतों के चलते तो वर्ल्ड इकनोमिक फोरम ने भारतीय मीडिया को दुनिया की दूसरी सबसे नीच मीडिया का ख़िताब भी दिया था 

अब हम आपको एक असली छेड़छाड़ की खबर बता दें मीडिया ने इसे भी दबाया, मामला है आगरा का जहाँ दामिनी नाम की एक मीडिया की ही एंकर के साथ मोहम्मद उबेद और मोहम्मद शादाब ने छेड़छाड़ की थी, दामिनी ने उनकी शिकायत पुलिस में की, और योगी राज है इसलिए जिहादियों को कोई संरक्षण  नहीं है और दोनों मोहम्मद गिरफ्तार हुए जिनकी तस्वीर आप ऊपर देख सकते है 


इन दोनों ने मीडिया की ही एक महिला एंकर से छेड़छाड़ की थी, अपनी बाइक पर बैठकर उसका पीछा किया और उसके साथ छेड़खानी की, पर मीडिया ने इस खबर को बताना भी जायज नहीं समझा, आपकी जानकारी के लिए बता दें की दामिनी दलित भी है, फिर भी मीडिया जो अक्सर दलित प्रेमी बनती है, उसने इस खबर को दबाना ही ठीक समझा !! 

जायरा वसीम के मामले में तो मीडिया ने  सबूत एक हिन्दू व्यक्ति को बदनाम किया, उसके बच्चों ने स्कुल जाना तक छोड़ दिया, बीजेपी नेता के बेटे विकास बराला को भी मीडिया ने बदनाम किया पर इस मामले में मीडिया ने इन दोनों के नाम और चेहरे को दिखाना ठीक नहीं समझा क्यूंकि इनके नाम मोहम्मद शादाब और मोहम्मद उबेद है !

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!