Press "Enter" to skip to content

दुर्गादास राठौर को नहीं जानता आज भारत, 1707 में मुगलों को औरतों के कपडे पहनाने वाला योद्धा !

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें


क्या आप दुर्गा दास राठौर को जानते है ? इनके नाम पर डाक टिकट भी जारी किया गया था, जो की आप ऊपर देख सकते है, पर हमारे सेक्युलर वामी  इतिहासकारो ने दुर्गादास राठौर को इतिहास की किताबों से जैसे गायब ही कर रखा है और इसी कारण आप इस महान योद्धा को नहीं जानते 

क्यूंकि  आपको तो इन्ही टुच्चे इतिहासकारो की किताबें स्कुल कॉलेज में पढाई जाती है, जो मुगलों को महान बताते है, दुर्गादास राठौर हिन्दू योद्धा थे और मुगलों ने औरंगजेब के ज़माने में 1702 में जोधपुर पर कब्ज़ा कर लिया था, मुगलों ने जोधपुर के तक़रीबन सारे मंदिर भी तोड़ दिए थे 

दुर्गादास राठौर मेवाड़ के रहने वाले  थे, उन्होंने  मुगलों से जोधपुर वापस लेने की कसम खाई और मेवाड़ में हिन्दुओ को एकजुट करने का काम  किया, 1-1 हिन्दू को उन्होंने अपने साथ जोड़ा और हर जाति के हिन्दुओ की  संगठित सेना बनाई 

दुर्गादास राठौर ने 1707 में जोधपुर पर हमला किया, और वापस जीत लिया, दुर्गादास राठौर ने कोई करुणा दया नहीं दिखाई, और वो मुगलों को इस अंदाज में काटते थे जैसे वो मशीन हों, मुगलों पर किसी ने इतनी बर्बरता नहीं की थी जो दुर्गादास राठौर ने की, दुर्गादास राठौर की सेनाओं ने जोधपुर पर वापस भगवा लहरा दिया और अधिकतर मुगलों और उनके सैनिको को जो उनके साथ थे सबको मार डाला गया 

कुछ सैंकड़ो मुग़ल बचकर भागने में कामयाब रहे, मुगलों ने दुर्गादास राठौर और हिन्दू सेना से बचने के लिए विभिन्न तरीके भी आजमाए थे 

मुगलों ने औरतों के कपडे पहने, औरतों का भेष बनाया  क्यूंकि वो जानते थे की हिन्दू सैनिक औरतों के घूँघट उठा उठा के नहीं देखते और हिन्दू औरतों पर वार नहीं करते, औरतों के भेष में जोधपुर छोड़कर सारे मुग़ल भाग गए, और जब औरंगजेब को ये बात पता चली तो बूढ़े हो चुके औरंगजेब को सदमा लग गया और इसी के तुरंत बाद वो मर गया 

Image result for ISIS FEMALE DRESS
आपको ISIS के इन आतंकियों की तस्वीरें याद ही होंगी, अल्लाह जिहाद इस्लाम के नाम पर इन्होने दरिंदगी मचाई, पर जब इनकी जान पर आई तो ये महिलाओं के कपडे पहनकर भागने लगे, दुर्गादास राठौर जैसे हमारे पूर्वज इन  दरिंदो को सैंकड़ो साल पहले भी औरतों के कपडे पहनकर भागने पर मजबूर किया था , पर हमारे टुच्चे इसिहासकारों ने मुगलों की महानता बताने के लिए दुर्गादास राठौर जैसे शूरवीरों को साजिश के तहत किताबों से हटा दिया 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!