Press "Enter" to skip to content

भारत में जीजस का विस्तार करना मेरा मकसद, कर रहा हूँ जीजस कर लिए काम : कमल हासन

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें


दैनिक भारत के पाठकों को हमने पहले भी जानकारी दी थी की अरविन्द केजरीवाल की तरह ही कमल हासन भी ईसाई मिशनरियों का एजेंट है, और इसकी पार्टी के पीछे ईसाईयों की संस्था की फंडिंग है, और यहाँ तक इसने अपनी ही प्रॉपर्टी पर एक ईसाई मिशनरी का भी रजिस्ट्रेशन करवाया हुआ है 

कमल हासन की पार्टी का मकसद है, तमिलनाडु में ईसाइयत का फैलाव करना, केरल में 25% हो चुके है, पर तमिलनाडु में घोषित रूप से 4% ही है, कमल हासन का लक्ष्य है की अगले 10 सालों में तमिलनाडु में कम से कम 25% ईसाई हो जाये, इसके लिए बड़े पैमाने पर धर्मांतरण की जरुरत होगी और अगर कमल हासन चुनाव जीतकर मुख्यमंत्री बन गया, या सत्ता में आ गया तब ये काम आसान हो जायेगा 

अब देखिये सुब्रमण्यम स्वामी ने कमल हासन ने पर क्या खुलासा किया है 
सालों पहले जब कमल हासन नेता नहीं बना था तब उसने वामपंथी पत्रकार करण थापर को इंटरव्यू दिया था और उसने साफ़ शब्दों में कहा था की मैं भारत में क्राइस्ट यानि जीजस के प्रचार का काम कर रहा हूँ, ईसाइयत के फैलाव का काम कर रहा हूँ 

खुलेआम कमल हासन स्वीकार कर चूका है की वो जीजस के लिए ईसाइयत के लिए काम करता है, और आज जब कमल हासन ने पार्टी बनाई है तो उसकी फंडिंग भी ईसाई मिशनरियों ने ही की है, तमिलनाडु के लिए ये शख्स बेहद घातक है, ये सेक्युलर नहीं बल्कि हिन्दू नाम में एक ईसाई शख्स है 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!