Press "Enter" to skip to content

बदल गया यूपी : दलित सम्मलेन, मुस्लिम सम्मलेन, ब्राह्मण सम्मलेन नहीं अब होता है आर्थिक सम्मलेन

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
भारत के सबसे बड़ा प्रदेश उत्तर प्रदेश में एक के बाद एक अपराधियों के एनकाउंटर हो रहे है, योगी सरकार प्रदेश को पूरी तरह अपराध मुक्त कर देने की दिशा में काम कर रही है, ये वही उत्तर प्रदेश है जिसे रंगदारी, अपराध, डकैती, हिन्दुओ के खिलाफ अपराध, फिरौती का प्रदेश माना जाता था, रात को लोग बाहर निकलने से बचते थे 

ये वही प्रदेश है जहाँ मौलाना कहा करते थे की – पुलिस वालो अगर हमारे लड़को को टच किया तो वर्दी के साथ खाल भी उतरवा देंगे, आज इस उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद अपराधी खुद पुलिस के पास  जोड़कर पहुँच रहे है, आत्मसमर्पण कर रहे है, अपराधियों में खलबली मची हुई है, और प्रदेश के हालात काफी हद तक सुधरे भी है 

और हालात सुधरे है तो उत्तर प्रदेश वालों ने भी इन्वेस्टर समिट देख लिया, जो योगी सरकार ने करवाया, बड़े बड़े उद्योगपति आये, निवेश करने के MOU साइन किये, पर पहले ऐसा नहीं था, पहले देश में अलग अलग राज्यों में इस तरह के समारोह, सम्मलेन हुआ करते थे उदाहरण के तौर पर गुजरात में “वाइब्रेंट गुजरात” हुआ करता था, ऐसे सम्मलेन तमिलनाडु, महाराष्ट्र इत्यादि कई राज्यों में होते थे 

पर उस ज़माने में उत्तर प्रदेश में सम्मलेन तो होते थे, पर वो होते  थे, दलित सम्मलेन, OBC सम्मलेन, राजपूत सम्मलेन, ब्राह्मण सम्मलेन,  मुस्लिम सम्मलेन, ऐसे सम्मलेन अधिकांश मायावती और अखिलेश यादव की पार्टी आयोजित करती थी ! उत्तर प्रदेश तो बस जातिवाद, नमाज़वाद के ही दौर से गुजर रहा था, सारे राज्य आगे बढ़ रहे थे, पर यूपी सिर्फ नमाज़वाद और जातिवाद में ही घिरा हुआ था,  पर योगी सरकार ने मात्र 1 ही साल में उत्तर प्रदेश में भी आर्थिक सम्मलेन करवा दिया, और बड़े बड़े लोग पहुंचे, ये सम्मलेन कामयाब रहा 

अब इस से सपा बसपा और कांग्रेस के लोगो को जलन तो हो ही रही है, और एनकाउंटर की तरह वो उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर समिट का भी विरोध कर रहे है, कांग्रेस के नेता तो  कह रहे है, ऐसा समिट होना ही नहीं चाहिए, हां जी, ये तो सिर्फ दलित, मुस्लिम, ब्राह्मण सम्मलेन ही चाहते है !

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!