Press "Enter" to skip to content

एक बार फिर मोदी सरकार, ताकि पैरों पर खड़ा हो रहा विकास दौड़ सके, वरना मार जायेगा उसे लकवा

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
एक बार फिर मोदी सरकार
एक बार फिर मोदी सरकार

हुकुम सिंह जी ने एक बार संसद में कहा था कि तुम हर समय पूछते रहते हो कहाँ हुआ विकास..? दिखाओ..!
तो उन्होंने जवाब दिया था कि विकास अभी पैदा हुआ है फिर अपने पैरों पर खड़ा होगा और जब दौड़ना शुरू करेगा तो तुम सबको दिखेगा..!

ये सिर्फ विरोधी ही नहीं बल्कि अपने वालों के भी कीड़ा है कि इनमें न सब्र है और न समझ… ये भी अक्सर पूछते मिलते हैं कि स्मार्ट सिटी का क्या हुआ..? स्मार्ट गांव का क्या हुआ..? स्वच्छ भारत का क्या हुआ..? स्वच्छ गंगा का क्या हुआ..? कितने कॉलेज बने…? कितने अस्पताल बने..? कितने एयरपोर्ट बने..? बुलेट ट्रेन का क्या हुआ..? भारतमाला-सागरमाला का क्या हुआ..? आदि आदि..


और इसी तर्ज पर एक सवाल होता है कि पटेल की मूर्ती का क्या हुआ..?
तो जैसा कि आपको तस्वीर में दिख रहा है कि पटेल की मूर्ती करीब करीब तैयार है.. लेकिन इसे तैयार करते करते भी 3 से 4 साल लग गए..!

अब जब ये एक मूर्ती बनने में इतना समय लग रहा है जबकि ये तो एक प्राइवेट टेंडर था..! तो बाकी काम जिसमें राजनीतिक रोड़े, कोर्ट के रोड़े, स्थानीय रोड़े, सरकारी रोड़े, NGT के रोड़े के साथ साथ वो काम इस मूर्ती से 10 से 1000 गुना बड़ा भी हो.. तो उसको तुम कैसे एस्पेक्ट कर सकते हो कि वो काम 5 साल में हो जाना चाहिए..?

नही हुआ तो ये तो फेकू निकला.. जुमलेबाज निकला… आदि आदि करना तुम शुरू कर देते हो..!

ये तो थे विकास और भारत को सुपर भारत बनाने के कार्य जो हो रहे हैं.. जो एक दशक बाद (2025 तक) आपके सामने होंगे..!

इसी तरह.. राम मंदिर, UCC, 370, अवैध घुसपैठिये आदि जैसे भाजपा के कोर मुद्दे भी प्रगति पर है और वो तो इससे भी ज्यादा जटिल हैं…

साथ ही कांग्रेस से इतर गरीबों के जीवन मे सुधार के कार्य जैसे बिजली.. गैस.. बीमा.
स्वास्थ्य सुरक्षा.. डेढ़ गुनी आय आदि भी कई मुद्दे मोदी की सरकार ने किए हैं..

महंगाई को कंट्रोल करने से लेकर पर केपिटल आय बढाकर आम आदमी पर भी बोझ नहीं पड़ने दिया है.. दूसरी तरफ व्यापारियों को भी सिंगल विंडो में लाने से लेकर उनके इज़ ऑफ डूइंग बीज़नेस में सुधार किया है.. साथ ही उनको सुरक्षा भी प्रदान की है..

अर्थव्यवस्था तो स्वयं अपने बारे में बताती है जब वो दुनिया की 6th बन जाती है और जल्द ही दुनिया की 3rd बनने को अग्रसर है…!

अंत में बात करूँ तो मोदी की वजह से ही सामाजिक रूप से हममें एकता बढ़ी है जो पहले बिखरी रहती थी। आज हम अपनी भाषा से लेकर अपनी संस्कृति पर पहले से बहुत अधिक गर्व करते हैं…

इतना सब होने के बावजूद भी यदि हम मोदी को छोड़ दें क्योंकि 5 साल में ही सब कुछ परफेक्ट क्यों नही हुआ है.. तो इससे बड़ी बेवकूफी क्या होगी…?? कम से कम मुझे तो बेवकूफ बनना मंजूर नही है.. जबकि शिकायतें तो मुझे भी बहुत हैं सरकार से.. लेकिन ये भी पता है कि मेरी शिकायतें पूरी करने वाली भी एक ही पार्टी है… वो नही रही तो मेरी शिकायत तो छोड़ो.. ऊपर के काम भी या तो बंद हो जाएंगे या फिर जो कुछ चलेंगे भी वो दशकों आगे पहूँच जायेंगे..!

तो फिर क्यों अब एक एक मुद्दा खोदकर मैं फूफा बनूँ..? राष्ट्रनीति में तो ओवरआल देखना पड़ता है, जहां मोदी निसंदेह पास होते हैं।। बाकी हर मुद्दे पर पर्टीक्युलर भी लिखा जाएगा.. खासकर विशेष मुद्दों पर..

#एक_बार_फिर_मोदी_सरकार..

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!