Press "Enter" to skip to content

रेप किया है तो क्या हुआ, वो पादरी है, पवित्र आत्मा है, मासूम है : मिशनरीज ऑफ़ जीजस

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Missionaries of jesus on Bishop Franco Mulakkal
Missionaries of jesus on Bishop Franco Mulakkal

Missionaries of jesus on Bishop Franco Mulakkal : केरल मूल के जालंधर के चर्च के पादरी फ्रांको मुल्लाकल के समर्थन में तमाम इसाई संगठन उतर गए है 

जबकि जिस महिला का इस पादरी ने बलात्कार किया वो भी 13 बार वो भी इसाई ही है, पर सभी इसाई संगठन अब बलात्कारी पादरी के समर्थन में घोषणा भी करने लग गए है


बता दें की एक नन का जालंधर के चर्च के पादरी फ्रांको मुल्लाकल ने 13 बार बलात्कार किया, धमकी देकर बलात्कार, पर जब उस नन यानि उस महिला से पीड़ा सहन नहीं हुआ तो उसने इस बात का खुलासा किया

loading...

 

पहले तो केरल के एक इसाई विधायक ने पादरी फ्रांको मुल्लाकल को निर्दोष घोषित करते हुए उस महिला को ही वैश्या घोषित कर दिया और अब देश के एक बड़े इसाई संगठन जिसका नाम है “मिशनरीज ऑफ़ जीजस” उसने भी पादरी फ्रांको मुल्लाकल के समर्थन का ऐलान कर दिया

मिशनरीज ऑफ़ जीजस ने कहा है की – पादरी मासूम है, मिशनरी ऑफ़ जीजस ने साफ़ कर दिया है की, अगर कोई पादरी बलात्कार करता है तो भी वो मासूम है क्यूंकि वो एक पादरी है वो तो पवित्र सौल है, वो पवित्र आत्मा है, वो शुद्ध आत्मा है

आपकी जानकारी के लिए बता दें की वैटिकन का पोप भी बलात्कारी पादरियों, बिशप, पास्टर्स को माफ़ी देता ही रहता है, इन लोगों पर केस भी नहीं चलने दिया जाता चूँकि इसाई मिशनरियां काफी ताकतवर है और अगर कहीं पर सेक्युलर और वामपंथी सरकार हो तो बलात्कारी पादरियों पर कोई कार्यवाही भी नहीं होती

loading...

 

और इसका उदाहरण केरल है – नन ने पादरी पर बलात्कार का आरोप लगाया, 75 दिन से ज्यादा हो गए है पर केरल की सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं की है, जबकि इस देश में अगर महिला छेड़छाड़ की भी शिकायत कर दे तो तुरंत गिरफ़्तारी हो जाती है, तमाम तरह के सेक्युलर बुद्धिजीवी, महिलावादी, फेमिनिस्ट इस मामले पर ऐसे मौन है जैसे सबके मुह में दही जम गयी है

बॉलीवुड के वो गंदे घटिया फिल्म्बाज भी प्लेकार्ड पकड़कर सामने नहीं आ रहे है जो की कठुवा के मामले पर हिन्दुओ और मंदिर के खिलाफ नफरत की दूकान चला रहे थे 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!