Press "Enter" to skip to content

ये है असल हेरोइन : इस्लामिक आतंकियों से 400 के प्राण बचाते हुए दिए अपने प्राण, आज है बलिदान दिवस

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Neerja Bhanot martyrdom day
Neerja Bhanot martyrdom day

Neerja Bhanot martyrdom day : आज की हमारी मॉडर्न युवतियों को पुछा जाये की आपकी पसंदीदा हेरोइन कौन है, तो वो बॉलीवुड की किसी फिल्म्बाज का नाम बता देंगी

र नीरजा भनोट के बारे में युवतियों को कुछ अता पता नहीं, ये ही है इस देश का हाल जहाँ फिल्म्बाजो को हीरो हेरोइन बताया जाता है पर जो असल में हीरो और हेरोइन होते है वो गुमनाम ही रहते है


आज है 5 सितम्बर – आज ही के दिन 1986 को नीरजा भनोट ने अपना बलिदान दिया था, उन्होंने 400 हवाई यात्रियों के प्राणों को इस्लामिक आतंकवादियों से बचाया था और ऐसा करते हुए स्वयं के प्राणों का बलिदान दे दिया था

loading...

 

नीरजा भनोट Pan Am Flight 73 में तैनात थी, तभी पाकिस्तान के कराची में इस फ्लाइट को इस्लामिक आतंकवादियों ने हाई जैक करने की कोशिश की, नीरजा इस फ्लाइट में तैनात थी और उन्होंने आतंकियों को ऐसा नहीं करने दिया, इस फ्लाइट में 400 यात्री थे

neerja bhanot saved this plane
neerja bhanot saved this plane

ये ही है वो विमान, जिसे नीरजा भनोट ने आतंकवादियों से बचाया, उन्होंने आतंकियों को अपने मंसूबों में कामयाब नहीं होने दिया और आतंकी जब हाई जैक की कोशिश करने लग गए तो नीरजा ने उनका विरोध अपने प्राणों की चिंता के बिना किया

अगर आतंकी प्लेन को हाई जैक कर लेते तो 400 यात्रियों की जान खतरे में पड़ जाती, आतंकी नीरजा से पार नहीं पा सके तो उन्होंने नीरजा को मार दिया, पर नीरजा अपना काम कर चुकी थी और उन्होंने संगर्ष किया और फिर सुरक्षाबल आ गए और प्लेन बचा लिया गया

loading...

 

नीरजा एक असल हेरोइन है और आज के दिन ही उन्होंने अपने प्राणों का बलिदान दिया था, उनकी बहादुरी को देखते हुए भारत ने उन्हें अशोक चक्र से भी सम्मानित किया था इसके अलावा अमेरिका ने भी उनको कई अवार्ड दिए थे

आज देश की युवा पीढ़ी नीरजा जैसी असल हेरोइन को भूलकर फिल्म्बाजो को हेरोइन बताती है ये वाकई शर्मनाक है, नीरजा भनोट के बलिदान दिवस पर दैनिक भारत की ओर से हम भारत की बहादुर बेटी को नमन करते है जिसने इस्लामिक आतंकवादियों से 400 की जान बचाते हुए अपने प्राण बलिदान कर दिए !

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!