Press "Enter" to skip to content

पाक का फॉरेन रिज़र्व अफगानिस्तान से भी कम हुआ, अब अफगानिस्तान की औकात पाक से ज्यादा

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Pakistan Foreign Reserve goes below Afghanistan
Pakistan Foreign Reserve goes below Afghanistan

Pakistan Foreign Reserve goes below Afghanistan : मोदी ने इनसे कहा था की आओ साथ गरीबी अशिक्षा से लड़ते है पर नहीं इनको जिहाद मचाना है, अब मोदी ने इनका क्या हाल किया है पूरी दुनिया देख रही है 

सभी देशों के पास ये लोन की अर्जी लगा रहे है, किसी देश का राजनयिक आये तो उसका पर्स चुरा रहे है, पाकिस्तान की ये हालत हो गयी है की अब अफगानिस्तान की औकात पाकिस्तान से ज्यादा है, जी हां ये सच है, पाकिस्तान की हैसियत अब पाकिस्तान से ज्यादा है जबकि पाकिस्तान खुद को बड़ा शाणा देश समझता था


अभी अगर पाकिस्तान में कोई आपदा आ जाये और कोई देश पाकिस्तान की मदद न करे तो पाकिस्तान सिर्फ 12-13 दिनों का ही खाना खरीद सकता है, फिर उसके बाद रोटी के लिए गृह युद्ध तय है क्यूंकि फिर 1 भी रूपय नहीं बचेगा, पाकिस्तान का फॉरेन रिज़र्व यानि विदेशी मुद्रा भंडार अब अफगानिस्तान से नीचे आ गया है

loading...

आतंकी बनाने वाले पाकिस्तान ने कुछ बनाया नहीं तो कमाई कैसे होगी, ऊपर से इस्लामिक बुद्धि इसलिए हूर और गिलमा जिहाद के आगे कुछ सोच भी नहीं सकते, ऊपर से मोदी ने दुनिया में इनको अलग थलग कर दिया इसलिए पाकिस्तान की ये स्तिथि हो गयी है की उसका फॉरेन रिज़र्व अब अफगानिस्तान से कम है

पाकिस्तान का वर्तमान में फॉरेन रिज़र्व 16.069 बिलियन अमरीकी डॉलर है, जबकि अफगानिस्तान का फॉरेन रिज़र्व 16.73 बिलियन डॉलर है, यानि अब विदेशी मुद्रा भंडार के मामले में अफगानिस्तान की औकात पाकिस्तान से ज्यादा है

loading...

पाकिस्तान की जनसँख्या 22 करोड़ से ज्यादा है, जबकि अफगानिस्तान की जनसँख्या 3.5 करोड़ ही है, अफगानिस्तान अपने लोगों का पेट लम्बे समय तक भर सकता है अगर कोई आपदा हुई तो, जबकि पाकिस्तान 12-13 दिन बाद नंगा खड़ा होगा

मोदी ने क्या किया है पाकिस्तान का हाल ये दुनिया देख रही है, और अभी सिर्फ आर्थिक चोट मिली है आतंकी पाकिस्तान को, जल्द ही इस पाकिस्तान को मोदी सैन्य चोट भी दे सकते है, इस पाकिस्तान का वजूद शायद ही कुछ साल और रहे संसार में अगर ये नहीं सुधरता !

 

 

 

 

 

 

 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!