Press "Enter" to skip to content

लाखों की जाने बचाई RSS ने, 10 ने दिया बलिदान पर पादरी ने थैंक्स कहा मस्जिद और मुस्लमान को

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Padre thanks Masjid and Muslims for help in kerala flood
Padre thanks Masjid and Muslims for help in kerala flood

Padre thanks Masjid and Muslims for help in kerala flood : केरल के एक बड़े पादरी ने केरल बाढ़ के दौरान मदद के लिए मस्जिद और मुसलमानों को शुक्रिया कहा है और उनकी जमकर तारीफ की है

ऊपर लाल घेरे में जिस शख्स को आप देख रहे है ये है केरल के पादरी सानु पुथुस्सेरी, जिन्होंने केरल बाढ़ के दौरान लोगों को बचने का श्री दिया है मस्जिदों और मुसलमानों को


पादरी सानु पुथुस्सेरी ने मस्जिद और मुसलमानों की जमकर तारीफ करते हुए कहा की – बाढ़ जब आई थी तो हामरी चर्च में पानी भर गया था, लोगों के पास खाने और पिने को कुछ भी नहीं बचा था, तब लोग मस्जिदों में गए जहाँ हमारे भाइयों को हमने तकलीफ बताई और फिर हम वहां से चले गए

उसके बाद मौलवी और उनके लोग खाने का सामान और दवाई लेकर हमारी मदद को पहुँच गए, केरल में बाढ़ के दौरान मस्जिदों और मुसलमानों ने मानवता की बहुत सेवा की और इसके लिए हम मस्जिदों और मुसलमानों का शुक्रिया अदा करते है

loading...

 

पादरी सानु पुथुस्सेरी ने कहा की मस्जिदों ने लोगों को अपने यहाँ शरण दी इसके अलावा मुसलमानों ने लोगों को खाना और दवाई दिया और मानवता की सेवा की

आपकी जानकारी के लिए बता दें की दैनिक भारत ने काफी दिनों पहले 21 अगस्त 2018 को ही एक आर्टिकल लिखा था और हमने उसी समय इस बात की भविष्यवाणी की थी की केरल में अभी लोगों की जानों को आरएसएस के स्वयंसेवक बचा रहे है, पर जब बाढ़ हटेगा तो लोगों को बताया जायेगा की किस तरह मुसलमानों ने मदद की, देखिये दैनिक भारत का वो आर्टिकल 

Screenshot of Dainik Bharat Article on 21st Aug 2018
Screenshot of Dainik Bharat Article on 21st Aug 2018

हमने लगभग 16 दिन पहले ही अपने पाठको को बताया था की आरएसएस के लोग अपने प्राण भले दे रहे हो लोगों को बचाने के लिए, केरल बाढ़ में 10 से ज्यादा आरएसएस के स्वयंसेवको ने अपना बलिदान दिया है

पर जब केरला की बाढ़ ख़त्म होगी तो फिर शुरू होगा सेकुलरिज्म का नंगा नाच, और इसकी शुरुवात पादरी ने कर दी, बचाव कार्य के लिए आरएसएस पर 1 शब्द नहीं बोला पर मस्जिद और मुस्लिम समाज को शुक्रिया अदा किया

Padre thanks Masjid and Muslims for help in kerala flood : आपकी जानकारी के लिए बता दें की भले ही दुनिया भर में मुस्लमान और ईसाईयों के बीच तनाव हो पर भारत में ये दोनों ही मिलकर काम करते है, और केरल में तो खासकर, जहाँ दोनों का टारगेट है हिन्दू, इसाई मिशनरी हो या फिर मुसिलम संगठन दोनों के धर्मांतरण का टारगेट हिन्दू ही है

loading...

 

अब केरल के बाढ़ में मदद के लिए इसाई पादरी मुस्लिम और मस्जिद की तारीफ कर रहे है अब मुस्लिम भी चर्च और ईसाईयों की तारीफ करेंगे, बिलकुल नूराकुश्ती की तरह, और दोनों ज्यादा से ज्यादा हिन्दुओ को अपने अपने मजहब में धर्मान्तरित करने का काम करेंगे, केरल में इसाई और इस्लामिक संगठन मिलकर काम करते है

हिन्दुओ ने बचाव कार्य किया, हिन्दुओ के संगठन संघ के 10 स्वयंसेवक बलिदानी हो गए, पर उनको कभी शुक्रिया तक नहीं कहा जायेगा, हिन्दुओ के लिए स्तिथि ऐसी ही है की नेकी कर और दरिया में डाल !

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!