Press "Enter" to skip to content

ईरान में भारतीय राजदूत था हामिद अंसारी, उसने RAW के साथ ईरान में जो किया, आज भी नहीं जानते 99% से ज्यादा भारतीय

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Hamid ansari and RAW
Hamid ansari and RAW

Hamid ansari and RAW : सबसे बड़ी चीज तो ये है की हामिद अंसारी जैसा शख्स हमारा उपराष्ट्रपति बन गया, उसे कांग्रेस पार्टी ने इस देश का उपराष्ट्रपति बना दिया, हामिद अंसारी माफिया डॉन मुख़्तार अंसारी का सगा चचेरा भाई है, वो भारत और हिन्दू विरोध की किस मानसिकता का व्यक्ति है ये जग जाहिर है, वो खतरनाक आतंकी संगठन PFI के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बनकर भी जाता रहा है

याद कीजिये ये बातें : हमीद ने पुजा की थाली उठाने से इंकार कर दिया था। हमीद ने योग दिवस का विरोध किया था। हमीद ने तिरंगे का अपमान किया और Salute नहीं किया था । और अब हामिद अंसारी ने पाकिस्तान को क्लीन चिट देते हुए सरदार वल्लभ भाई पटेल को बंटवारे का जिम्मेदार बता दिया


Hamid ansari and RAW : आज हम आपको इस हामिद अंसारी से जुडी एक बात बता रहे है जो आज भी देश के 99% से ज्यादा लोगों को नहीं पता, RAW और हामिद अंसारी से जुड़ा अतीत …

बात 1990 के दशक के आखिरी वर्षों का है जब, M.H Ansari ईरान मे भारत के Ambassador हुआ करते थे । उस समय तेहरान मे पोस्टेड RAW के जासूस Mr. Kapoor को तेहरान मे किडनेप कर लिया गया ।

इस young operative को लगातार 3 दिनों तक बुरी तरह टोर्चर किया गया, ड्रग्स के डोज़ दिये गए और आखिर मे उसे तेहरान के सुनसान सड़क पे फेंक दिया गया । पर Ambassador अंसारी ने इस मुद्दे पर तनिक भी ध्यान नहीं दिया न ही भारत सरकार को इस बाबत खबर दी

loading...

इसी दौरान कश्मीर के कुछ Trainee इमाम तेहरान के नजीदक Qom नामक Religious Center मे ट्रेनिंग के लिए इकट्ठा होते थे, जिस पर RAW ने नजर रखा हुआ था, और इसकी पूरी जानकारी दिल्ली हेडक्वार्टर भेजा जा रहा था । M.H Ansari के एक जानकार के माध्यम से RAW जासूस Mr. Mathur ने इस संगठन मे अपने जासूस फिट किए थे ।

इसी बीच अचानक Mr. Mathur का भी तेहरान जासूसों ने किडनेप कर लिया, जिसका पूरा शक अंसारी के मुखबिरी का था । इंडियन इंटेलिजेंस खेमा हरकत मे आया और माथुर की तलाश ईरान मे शुरू हुई, पर Ambassador होते हुए अंसारी न कोई मदद किया और नहीं इस घटना की सूचना भारत सरकार को दी गयी ।

Hamid ansari and RAW : आखिर 2 दिन बाद जब इंटेलिजेंस ऑफिसर के बीबी-बच्चे अंसारी के घर के गेट पर प्रदर्शन करना शुरू किया । पर अंसारी इंटेलिजेंस वालों के परिवार वालों से मिलने से इंकार कर दिया, Mr. Mathur की पत्नी ने अंसारी के केबिन मे घुस उसे बुरी तरह लताड़ा ।

loading...

हताश RAW ने दिल्ली हेडक्वार्टर को इन्फॉर्म किया और तब के PM Atal Bihari Vajpayee जी से बात की । PMO के दखल से कुछ ही घंटे मे ईरानी जासूसों ने Mr. Mathur को आजाद कर दिया ।

Mr. Mathur को थर्ड डिग्री दी गयी थी, पर उन्होने तेहरान मे स्थित किसी जासूस या कोई भी सीक्रेट जानकारी उन्हे नहीं दिया । पर ईरान स्थित दूसरे RAW agents का मनोबल टूट चुका था ….

नोट:- सारे तथ्य RAW के declassified files से लिए गए हैं ।

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!