Press "Enter" to skip to content

सिम के नाम पर भीड़ बुलाकर हिन्दू व्यापारी को घेरकर हमला, साथ ही दिवाली न मनाने की दी धमकी

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Hindu Shop owner attacked in Deoband
Hindu Shop owner attacked in Deoband

Hindu Shop owner attacked in Deoband : आब सुरक्षित है बहुत बढ़िया, पर जहाँ पर कट्टरपंथियों की आबादी बढ़ रही है वहां क्या हो रहा है ये आपको मीडिया क्यों बताएगी, कहीं आप जाग गए तो मीडिया ये घटनाएं और खबर दबाती है 

सहारनपुर के देवबंद में हिन्दू व्यापारी को घेरकर हमला किया गया है, मजहबी भीड़ बुलाकर हिन्दू व्यापारी पर हमला किया गया और अब उसे दिवाली न मनाने की भी धमकी दी गयी है, हां भैया ये लोग सब धर्मो का सम्मान करते है, बहुत सुना है ये डाइलोग


यूपी में सरकार है योगी आदित्यनाथ की इसी कारण केस दर्ज हो गया है, वरना केस भी दर्ज हो ये बड़ी चीज है, इलाके के विधायक ने जो बीजेपी का है उसने हिन्दू व्यापारी का साथ दिया है, बाकि जाति वाला तो कोई आया नहीं

loading...

व्यापारी की सिम मोबाइल की दुकान है, जहां से कट्टरपंथी समुदाय के एक शख्स ने सिम लिया था, और लड़ाई सिम बदलवाने को लेकर हुई, ये एक मामूली लड़ाई है, पर इसमें एक कट्टरपंथी और एक हिन्दू शामिल था

तो कट्टरपंथियों को बहाना मिला इलाके में खौफ भरने का, और बुला ली देखते ही देखते मजहबी भीड़ और व्यापारी पर हमला कर डाला, 2 मकसद – एक तो इलाके में सबको बताना की यहाँ हमारी ही चलेगी, दूसरा खौफ भरना ताकि हो पलायन

loading...

Hindu Shop owner attacked in Deoband : इतना ही नहीं अब कट्टरपंथी समुदाय ने इस हिन्दू व्यापारी को दिवाली न मनाने की भी धमकी दी है, अगर दिवाली मनाई तो बचेगा नहीं, कट्टरपंथी बहुल इलाकों में ये घटनाएं आम सी है, जिसे मीडिया हर बार दबाती और छिपाती है, आपका इलाका शायद अभी कट्टरपंथी बहुल न हुआ हो इसलिए आप इन इलाकों की स्तिथि को शायद ही समझ सके

बेटियों अक घर से निकलना नामुमकिन सा होता है, बिना छिडे घर में वापस आना असंभव सा है, सरकार किसी की भी हो, सबको सुरक्षा तो नहीं दी जा सकती, इनक 2 मकसद होता है, आपके दिल में खौफ भरना और दूसरा पलायन की शुरुवात करवाना, सेकुलरिज्म बहुत भारी पड़ रहा है देश को

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!