Press "Enter" to skip to content

सीपीएम महिला नेता ने कहा – सबरीमाला मंदिर पर थूक देना चाहिए

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
jisha abhinaya ask to spit on Sabarimala
jisha abhinaya ask to spit on Sabarimala

jisha abhinaya ask to spit on Sabarimala : आज केरल में हिन्दुओ का भयानक रूप से दमन हुआ है, और दमन जारी है – सबरीमाला मंदिर में इसाई और मुस्लिम महिलाओं ने केरल पुलिस की मदद से अराजकता फैलाई 

मुस्लिम और इसाई महिलाओं को मंदिर में घुसाने के लिए केरला की पुलिस ने सबरीमाला मंदिर के भक्तों पर भयानक अत्याचार भी किया है, आज मैरी स्वीटी नाम की इसाई महिला, रेहाना फातिमा नाम की सुन्नी मुस्लिम महिला और कविता जक्कल नाम की इसाई महिला ने सबरीमाला मंदिर में पुलिस की मदद से उत्पात मचाया


पुलिस ने इनको 300-300 कमांडो की सुरक्षा दी और मंदिर के अन्दर घुसाने की कोशिश की, पहले रास्ते भर इनका भक्तों ने विरोध किया तो पुलिस ने उनका दमन किया, पुलिस इनको मंदिर तक ले आई, धर्म बचाने के लिए मंदिर के मुख्य पुजारी जिन्हें तंत्री कहा जाता है उन्होंने मंदिर को बंद कर देने की चेतावनी दी

loading...

मंदिर के पुजारी ने मजहबी महिलाओं से मंदिर की रक्षा की जो वामपंथी सरकार की मदद से मंदिर में ताकत का प्रदर्शन करने घुस रही थी, तंत्री के चट्टान की तरह खड़ा हो जाने के कारण आज मंदिर की पवित्रता को 3 मजहबी औरतों से बचा लिया गया

पर इसके बाद अब केरल में वामपंथी भड़क गए है, और केरल में वामपंथी नेता जीशा अभिन्या जो की वामपंथी न्यूज़ पेपर देशाभिमानी की सब एडिटर है उसने क्या कहा ये आपको देख लेना चाहिए

jisha abhinaya ask to spit on Sabarimala
jisha abhinaya ask to spit on Sabarimala
loading...

वामपंथी महिला नेता ने क्रोधित होकर कहा की – तंत्री (मुख्य पुजारी) के कारण रेहाना फातिमा और कविता जक्कल टेम्पल के अन्दर नहीं घुस सकी, रेहाना और कविता जक्कल को सबरीमाला मंदिर पर थूक देना चाहिए था, और थूककर मंदिर की चढ़ाई करनी चाहिए थी

हिन्दुओ के मंदिर पर एक मुस्लिम और इसाई महिला को थूकने के लिए सलाह वामपंथी महिला नेता ने दे दिया, हिन्दुओ का वामपंथी सरकार दमन किस प्रकार कर रही है ये आप वामपंथ की मानसिकता को देखकर समझ सकते है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!