Press "Enter" to skip to content

अब कुछ ही लोग बचे है बताने वाले – मीरपुर में 1 दिन में 18 हज़ार हिन्दुओ को घेरकर मार दिया

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
massacre of Hindus
massacre of Hindus

massacre of Hindus : नेहरु गाँधी जिन्नाह इत्यादि ने मिलकर देश के टुकड़े टुकड़े कर दिए, पर सिर्फ देश के ही नहीं बल्कि हिन्दुओ और सिखों के भी टुकड़े टुकड़े किये गए 

सेकुलरिज्म का ऐसा भयानक अंजाम भुगतने के बाद भी आज हिन्दू समाज सचेत नहीं हो सका है, और वो इसलिए क्यूंकि हिन्दुओ से बड़ी ही चालाकी से चीजें छिपाई गयी है, उनको बकवास और फर्जी इतिहास पढ़ाकर बड़ा किया गया है, इस्लामिक आतंकवादियों को महान बताया गया है


आज जिस कश्मीर से हिन्दू गायब कर दिए गए पहले यहाँ हिन्दुओ की आबादी 100% थी, यहाँ तो 1947 तक हिन्दू राजा ही था, हिन्दू जबतक सैनिक था तबतक वो अस्तित्व में रहा, हिन्दुओ को पहले सेक्युलर बनाया गया और सेक्युलर हिन्दू साफ़ कर दिए गए, ये ही तथ्य है

कभी मीरपुर नाम का शहर पूरी तरह हिन्दुओ का था, धरती पर स्वर्ग बेहद खुबसूरत, आज 1 भी हिन्दू मीरपुर में नहीं है, और मीरपुर आज पाकिस्तान के कब्जे में है, वो POK का हिस्सा है, देश के टुकड़े होने के बाद पाकिस्तान की सेना और जिहादियों ने कश्मीर पर कब्जे के लिए हमला कर दिया

पर नेहरु ने भारत की सेना को काफी दिनों तक जाने ही नहीं दिया, नतीजा कश्मीर का एक बड़ा हिस्सा आज POK है, गुलाम है, और वहां हिन्दू बहुसंख्यक थे जो साफ़ कर दिए गए, हिन्दुओ पर जब मीरपुर में हमला हुआ तो 1 ही दिन में 18 हज़ार हिन्दुओ को घेरकर मार दिया गया

loading...

massacre of Hindus : इतिहास की किताबों से ये सब गायब है, जिन लोगों ने तथ्यों को लिखा उकी किताबों को बैन कर दिया गया, और स्कुल कॉलेज हर जगह वामपंथियों की किताबों को पहुंचा दिया गया

1947 से आज वर्तमान में, बहुत ही कम लोग बचे है जो बताते है की किस तरह मीरपुर में हिन्दुओ को मारा गया, बता दें की मीरपुर में जब हिन्दुओ को मारा जा रहा था तब भारतीय सेना को नेहरु ने मीरपुर जाने से रोक दिया था

मीरपुर के एक व्यक्ति किसी तरह अपनी जान बचाकर जम्मू आ गए, उनके पुरे परिवार को मार दिया गया, वो अब बुजुर्ग है, इतने साल हो गए पर वो उस दिन के हाल को बताते हुए आज भी रो देते है, आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते की किस तरह हिन्दुओ को मारा गया होगा, एकदम कीड़े मकौड़े की तरह मसल कर

ये मीरपुर के ही असली नागरिक है, मीरपुर हिन्दुओ का शहर था, जो अब पाकिस्तान के कब्जे में है, हिन्दुओ पर किये गए हमले को लेकर आज इतने दशको बाद भी ये रो देते है, तब इनकी उम्र काफी कम होगी, पर आज भी ये रो देते है, चूँकि कदाचित इनकी आँखों ने भी बहुत कुछ देखा हो

loading...

massacre of Hindus : ये जो व्यक्ति है वो मीरपुर के है, पर कल इनके जैसा ही भविष्य भारत के किसी भी शहर के नागरिक का हो सकता है, वो भी 50-60 साल बाद इसी तरह रोते हुए इतिहास बताये तो कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए

क्यूंकि आज भी देश का हिन्दू सेकुलरिज्म की मस्त नींद में है, जो उसे बर्बादी की तरफ ही लेकर जा रही है, हर शहर में आज मिनी पाकिस्तान तैयार है, बस देर है कट्टरपंथी आबादी कुछ और बढ़ने की

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!