Press "Enter" to skip to content

मंदिर में हिन्दू नंगा पन फैलाने के लिए जाते है : पीके श्रीमती, लोकसभा सांसद, CPM

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
P K Sreemathy on Hindus
P K Sreemathy on Hindus

P K Sreemathy on Hindus : जिस मानव रूपी की तस्वीर आप ऊपर देख रहे है इसे हम महिला नहीं कह सकते, इसका नाम है पीके श्रीमती, ये लोकसभा सांसद है, केरल के कन्नूर से और सीपीएम की सांसद है 

हिन्दुओ, मंदिरों और हिन्दू महिलाओं के बारे में जो इसने बयान दिया है उसे जानकार आप भी इस मानव रूपी को महिला नहीं कहेंगे, इसने हिन्दुओ ने खिलाफ नफरत का पिटारा सा खोल दिया है, दरअसल वामपंथियों ने मिलकर सबरीमाला के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट से फैसला करवाया


पर केरल के हिन्दू और खासकर हिन्दू महिलाओं ने सबरीमाला का समर्थन कर दिया और अब लोग सड़कों पर है, इसे देखकर सबसे ज्यादा वामपंथी बौखलाए है, और हिन्दू महिलाओं का विरोध करते हुए सीपीएम सांसद पीके श्रीमती ने केरल में एक आपत्तिजनक भाषण दिया

सीपीएम सांसद पीके श्रीमती ने कहा की – हिन्दू महिलाएं कट्टरपंथी होती है, इनको आरएसएस और बीजेपी ने कट्टरपंथी बना दिया है, आरएसएस और बीजेपी ने सती का भी समर्थन किया था, और राजस्थान में आरएसएस और बीजेपी ने 50 हज़ार हिन्दू महिलाओ के साथ सती के समर्थन में रैली निकाली थी

loading...

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत में सती प्रथा पर 18वी सदी में ही रोक लग गयी थी, आरएसएस 1925 में बनी थी, ऐसे में आरएसएस और बीजेपी ने सती के समर्थन में राजस्थान में कैसे और कब रैली निकाल दी, ये सिर्फ सीपीएम सांसद पीके श्रीमती ही जानती है

सीपीएम सांसद पीके श्रीमती यही नहीं रुकी इसने आगे कहा की – हिन्दू महिलाएं मंदिरों में अपना नंगा शरीर दिखाने जाती है, वो वहां पर आदमियों को फंसाने जाती है

loading...

सीपीएम सांसद पीके श्रीमती ने हिन्दू महिलाओं को चरित्रहीन बताते हुए कह दिया की हिन्दू मंदिरों में नंगापन फैलाने जाते है, अब आप समझ सकते है की सीपीएम सांसद पीके श्रीमती को हमने महिला कहने से ऊपर इंकार क्यों किया था

हिन्दुओ और मंदिर के प्रति वामपंथियों की नफरत इतनी अधिक है की ये खुद को सबसे सभ्य बताकर हिन्दुओ के खिलाफ इतना जहरीला भाषण देते है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!