Press "Enter" to skip to content

कार चोरी के लिए संजीव गाँधी को किया गया लंदन में गिरफ्तार, बचाने के लिए बनाया गया संजय गाँधी

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi
Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi

Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi : इंदिरा गाँधी और फिरोज खान के 2 बेटे थे, बड़े बेटे का नामा राजीव खान और छोटे बेटे का नाम था संजीव खान, हालाँकि इन लोगों ने फिरोज खान का सरनेम राजनितिक कारणों से नहीं लगाया 

बड़ा बेटा राजीव गाँधी हो गया और छोटा बेटा संजीव गाँधी, आप आज उस संजीव गाँधी को संजय गाँधी के नाम से जानते है, पर संजय गाँधी असली नाम नहीं था असली नाम था संजीव, राजीव और संजीव


इंदिरा गाँधी का छोटा बेटा संजीव गाँधी ज्यादा सक्रीय था, वो अड़ियल, खुद को राजा समझने वाली मानसिकता का व्यक्ति था, उसे गाड़ियों का बहुत शौख था, उसे अलग अलग तरीके की गाड़ियों को चलाना, ऐश करना पसंद था, इंदिरा प्रधानमंत्री थी और दिल्ली में तो इंदिरा से ज्यादा चर्चे संजीव के कारनामो के रहते थे

संजीव गाँधी को लंदन भेजा गया, जहाँ पर अपनी आदतों से मजबूर संजीव गाँधी ने कई काण्ड किये, और इन्हें लंदन में गिरफ्तार भी कर लिया गया, लन्दन की पुलिस ने भारत के प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी के छोटे बेटे संजीव गाँधी को लन्दन में कार चोरी करने के लिए गिरफ्तार कर लिया

loading...

संजीव गाँधी अरेस्ट हो गए, तो यहाँ भारतीय सरकार और PM इंदिरा सक्रीय हो गयी, और कैसे भी संजीव को बचाने का काम शुरू कर दिया गया, मामले को दबाने के लिए मीडिया के साथ भी कई डील की गयी, और फिर एक नया खेल किया गया, संजीव को संजय बना दिया गया और उनका नया पासपोर्ट भी जारी कर दिया गया, और उसके बाद से संजीव गाँधी संजय  गाँधी हो गए

Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi
Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi
Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi
Sanjay Gandhi real name was Sanjiv Gandhi

हम आपको फिर बता दें की ये जानकारियां आपसे भयानक तरीके से छिपाई गयी है, और ये जानकारियां आपको किसी पत्रिका इत्यादि में भी नहीं मिलेंगी, गूगल पर भी आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी, तब जाकर आप इन जानकारियों तक पहुँच सकेंगे

एक पूरा सिस्टम है इस खानदान के कारनामो को छिपाने के लिए 

संजीव गाँधी कार चोरी करने के लिए लन्दन में गिरफ्तार कर लिए गए तो यहाँ PM इंदिरा ने आदेश दिया जिसके बाद लन्दन में भारत के राजदूत कृष्णा मेनन ने गैर क़ानूनी तरीके से संजीव गाँधी को संजय गाँधी बना दिया, और डील तथा सेटिंग से उनको कार चोरी के मामले में बचा लिया गया

loading...

उसके बाद से आजतक संजीव गाँधी संजय गाँधी के नाम से ही जाने जाते है, ये जानकारी 99.99% से भी ज्यादा भारतीयों को नहीं है सिर्फ कुछ ही ओग इस तथ्य को जानते है की इंदिरा गाँधी के छोटे बेटे को बचाने के लिए दशको पहले बड़ा गैर क़ानूनी नाम घोटाला किया गया था

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!