Press "Enter" to skip to content

शिवपाल ने तोड़ी 50% सपा, अखिलेश यादव वेस्ट यूपी से हुए साफ़, खंड खंड हो रहे हिन्दुओ को बांटने वाले

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Shivpal Broke half Samajwadi Party
Shivpal Broke half Samajwadi Party

Shivpal Broke half Samajwadi Party : शिवपाल यादव को शायद अखिलेश यादव ने कमजोर समझ लिया था, जबकि सच ये था की जब मुलायम की सपा में चलती थी तो शिवपाल ही वो शख्स थे जो कार्यकर्ताओं को बांधकर रखते थे, उनकी कार्यकर्ताओं के बीच मजबूत पकड़ थी 

अखिलेश यादव ने अपने पिता का तो अपमान किया ही साथ ही अपने चाचा को भी बहुत अपमानित किया और शिवपाल यादव ने अपनी अलग पार्टी बना ली, पर शिवपाल ने पार्टी शायद अखिलेश यादव को सबक सिखाने के लिए ही बनाई है, क्यूंकि उनका मुख्य काम अभी सपा को तोडना ही हो गया है


वेस्ट यूपी से अखिलेश यादव अब पूरी तरह साफ़ हो गए है, वेस्ट यूपी में सपा का लगभग सारा ही कैडर शिवपाल की पार्टी में समिल्लित हो गया है, पुरे उत्तर प्रदेश में शिवपाल सपा नेताओं को सपा से तोड़कर अपनी पार्टी में तेजी से शामिल कर रहे है

बड़ी चीज ये है की यादव कार्यकर्त्ता अखिलेश की जगह शिवपाल का समर्थन कर रहे है क्यूंकि यादवों में अखिलेश को लेकर रोष है की इन्होने अपने बाप को ही धोखा दिया है, मध्य यूपी में यादव बहुल है, और यहाँ पर यादवों के बीच अखिलेश की छवि बहुत ख़राब हुई है, ऊपर से मुलायम सिंह यादव भी अब शिवपाल की पार्टी से अगला लोकसभा चुनाव लड़ रहे है

loading...

सपा के 30 से ज्यादा पूर्व मंत्री और विधायक शिवपाल की पार्टी में शामिल भी हो चुके है, वहीँ वेस्ट उत्तर प्रदेश में तो जो हो रहा है उसपर किसी को यकीन नहीं हो रहा, यहाँ पर सपा के मुस्लिम कार्यकर्त्ता बड़े पैमाने पर शिवपाल की पार्टी से जुड़ रहे है, अखिलेश यादव की सरकार में मंत्री रहे फरहान शकील भी शिवपाल की पार्टी से जुड़ गए है

आजमगढ़ में समाजवादी पार्टी के बड़े नेता बलराम यादव भी सपा छोड़ शिवपाल की पार्टी में शामिल हो गए है, सपा के प्रवक्ता मोहम्मद शाहिद, जौनपुर में प्रभानंद यादव, मिर्जापुर में श्यामा नारायण यादव, आजमगढ़ में राम प्यारे यादव, बलिया में दिनेश यादव, मऊ में विजय शंकर यादव, गोरखपुर में राम मिलन यादव, और देवरिया में गिरेंद्र यादव ये सभी सपा छोड़ शिवपाल की पार्टी में शामिल हो गए है

loading...

Shivpal Broke half Samajwadi Party : ये तो नेता है पर सिर्फ नेता ही नहीं बल्कि सपा के बड़े पैमाने पर मुस्लीम और यादव कार्यकर्त्ता शिवपाल के साथ आ रहे है, इन लोगों का मानना है की अखिलेश यादव अपने दम से नहीं थे वो मुलायम के दम से थे, वो 2012 में भी मुलायम के कारण यूपी में जीते थे, उनमे क्षमता नहीं है और शिवपाल पुराने नेता है इसलिए लोग शिवपाल से जुड़ रहे है

जो भी है पर सपा खंड खंड हो रही है, और इसके अलावा बसपा का भी ये ही हाल है, वहां भी रावण लगातार मायावती की पार्टी को तोड़ने में लगा है, सपा और बसपा वो पार्टी है जिन्होंने हिन्दुओ को जातियों में तोडा है, बांटा है, अब ये खुद खंड खंड हो रहे है, देश के लिए ये अच्छा ही है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!