Press "Enter" to skip to content

राम मंदिर को लटकाया जा रहा है इस से क्या फर्क पड़ता है, कोई जल्दी नहीं है : तेजस्वी यादव, RJD

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Tejasvi Yadav on Ram Mandir
Tejasvi Yadav on Ram Mandir

Tejasvi Yadav on Ram Mandir : इस देश में जातिवादी हिन्दुओ को एक बात समझनी होगी, ये जितने भी जातिवादी नेता है जिनको आप अपना मसीहा मानते है, ये वक्त पड़ने पर आपके ही काम नहीं आयेंगे 

बसपा हो, सपा हो या RJD – जब भी यूपी में दलितों पर कट्टरपंथी जिहादियों द्वारा हमले होते है, 1 भी दलित नेता नहीं आता, जब भी यादवों पर कट्टरपंथियों द्वारा हमले होते है, 1 भी सपा RJD नेता नहीं आता, ये तीनो ही पार्टियाँ सिर्फ कट्टरपंथियों की सगी है, और ये वास्तविक सत्य है


राम मंदिर को बार बार लटकाया जा रहा है, हिन्दू समाज के लोग इस से परेशान है – अयोध्या में मंदिर ही था, सारे सबूत मौजूद है, खुद केके मोहम्मद की टीम ने हाई कोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट को खुदाई के सारे सबूत सौंपे है, मामले को बार बार सबूत होने के बाद भी लटकाया जा रहा है

loading...

राम मंदिर को लेकर हिन्दुओ का सब्र जवाब दे रहा है और राम भक्तों में आक्रोश भी भरता जा रहा है, इसी को देखते हुए केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बयान देते हुए कहा की – हिन्दुओ का सब्र जवाब दे जायेगा, राम मंदिर में अब विलंभ न किया जाये, इसपर आप स्वयं देखिये तेजस्वी यादव ने क्या बयान दिया

Tejasvi Yadav on Ram Mandir
Tejasvi Yadav on Ram Mandir

तेजस्वी यादव का साफ़ कहना है की – राम मंदिर को लटकाया जा रहा है इस से क्या फर्क पड़ता है, हमारा कोई सब्र नहीं टूट रहा – इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने एक वामपंथी की तरह रटा रटाया नौकरी इत्यादि की बात कर दी

loading...

जब इनके चोर बाप की सरकार थी बिहार में तो बिहारियों को इतनी नौकरियां दी की आज तक बिहार संभल नहीं सका है और आज भी बिहारी देश के दुसरे जगहों पर आये दिन अपमानित किये जाते है

असल में ये तमाम जातिवादी नेता खुलकर कट्टरपंथियों का सपोर्ट अभी नहीं कर सकते, पर जैसे ही कट्टरपंथियों की आबादी कुछ और बढ़ेगी ये ओवैसी की ही जबान बोलेंगे, इनको राम मंदिर पर हो रहे विलंभ से कोई फर्क नहीं पड़ता

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!