Press "Enter" to skip to content

अमरिंदर सिंह ने पाक को आतंकी बताकर करतारपुर कोरिडोर पर पाकिस्तानी न्योते को किया रिजेक्ट

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Amrinder singh denied Pak invitation in Kartarpur Corridor function
Amrinder singh denied Pak invitation in Kartarpur Corridor function

Amrinder singh denied Pak invitation in Kartarpur Corridor function : पहले तो आपको साफ़ कर दें की इस्लामिक आतंकवादी पाकिस्तान को सिखों से कोई मोहब्बत नहीं है, वो सिखों को सिर्फ इस्तेमाल करना चाहता है, खालिस्तान के नाम पर ताकि कश्मीर जैसे हालात पंजाब में भी बना सके, अपने यहाँ के सभी सिखों को ख़त्म कर चूका है पाकिस्तान  

कांग्रेस पार्टी भी पाकिस्तान का खूब साथ दे रही है, कांग्रेस के नेता सिद्धू तो पाकिस्तान के एजेंट की तरह इन दिनों काम कर रहे है, पर फिर भी पाकिस्तान पंजाब में उतना सफल नहीं हो पा रहा है, और उसका कारण है पंजाब की कमान अमरिंदर सिंह के हाथों में है


अमरिंदर सिंह हैं तो कांग्रेसी नेता, पर दिल्ली की कांग्रेसी मंसूबो को वो कामयाब नहीं होने दे रहे, राहुल गाँधी से भी अमरिंदर सिंह की बनती नहीं है, पर अमरिंदर सिंह मजबूत नेता है इसलिए राहुल गाँधी जैसे लोग उनका कुछ बिगाड़ नहीं पाते

loading...

सिद्धू बहुत कोशिश कर रहा है पाकिस्तानी एजेंडे को पाकिस्तान में चलाने की, पर अमरिंदर सिंह चलने नहीं दे रहे, करतारपुर कोरिडोर के उद्घाटन के कार्यक्रम में पाकिस्तान ने अमरिंदर सिंह को आने का न्योता दिया, पर अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तानी न्योते को रिजेक्ट कर दिया और पाकिस्तान को आतंकवादी बता दिया

अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तानी न्योता रिजेक्ट कर दिया और कहा की पाकिस्तान हमारे नागरिको और सैनिको पर हमले कर रहा है इसलिए मैं पाकिस्तान के कार्यक्रम में नहीं जाऊंगा

अमरिंदर सिंह ने न केवल पाकिस्तान के मुह पर जूता मारा है, बल्कि सिद्धू और कांग्रेस पार्टी के मुह पर भी जूता मारा है

आपकी जानकारी के लिए बता दें की पंजाब के अधिकतर कांग्रेसी विधायको पर अमरिंदर सिंह का कण्ट्रोल है, कुछ विधायको पर ही राहुल गाँधी का कण्ट्रोल है और सिद्धू पंजाब सरकार में राहुल गाँधी के आदमी है

loading...

पर अमरिंदर सिंह बाकि कांग्रेसियों की तरह राहुल गाँधी के गुलाम नहीं है, इसी कारण वो पाकिस्तान और कांग्रेस के एजेंडे को पंजाब में सफल नहीं होने दे रहे, अमरिंदर सिंह के कारण ही खालिस्तानी तत्व उतने सफल नहीं हो रहे जितना वो मंसूबा मनाये हुए है

अमरिंदर सिंह है तो कांग्रेसी पर वो कांग्रेस के जैसे एकलौते राष्ट्रवादी नेता हो, वो पहले भी कांग्रेस के खिलाफ जाकर सैनिको का समर्थन करते हुए आये है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!