Press "Enter" to skip to content

मिशनरी आतंक – मानवता की आड़ में धर्मांतरण, अनाथालय में 25 हिन्दू बच्चों का धर्म बदला, नाम में लगा दिया मसीह

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Christian terror in India
Christian terror in India

Christian terror in India : अगर हिन्दू नहीं होगा तो क्या भारत होगा ? भारत के हिन्दू का धर्मांतरण यानि भारत के खिलाफ युद्ध, और इसाई मिशनरियों ने भारत के खिलाफ युद्ध दशको से छेड़ा हुआ है 

मानवता की आड़ में इसाई मिशनरियां धर्मांतरण का धंधा करती है, इनके अनाथालय, वृद्ध आश्रम, अस्पताल सब मानवता की आड़ में धर्मांतरण, अंग तस्करी, बच्चा बेचने का धंधा करने वाला स्थान होता है


अम्बाला से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जहाँ अनाथालय के नाम पर मानवता के नाम पर इसाई मिशनरियों ने 25 बच्चों का धर्मांतरण कर दिया और उनके नाम के आगे या पीछे मसीह शब्द लगा दिया, उदाहरण के तौर पर विवक से विवेक मसीह बना दिया

loading...

अम्बाला के कलरहेड़ी स्थित अनाथालय से पुलिस और अन्य विभागों की टीम ने 25 बच्चों को छुड़ाया है, इन सभी का ईसाइयत में धर्मांतरण कर दिया गया, इस अनाथालय का संचालन इसाई मिशनरियां करती है

बच्चों के नाम में न सिर्फ मसीह शब्द जोड़ा गया बल्कि बच्चों का ब्रेन वाश भी करने का कार्यक्रम चलाया गया, जिसके तहत हिन्दू धर्म से नफरत और ईसाइयत से प्रेम का पाठ सिखाया गया, यहाँ बच्चों का इस कदर ब्रेन वाश किया गया है की एक छोटी बच्ची ने तो इसाई मिशनरी के एजेंट के कहने पर पुलिस पर चाकू से हमला करने की भी कोशिश की


loading...

जिन बच्चों को इसाई मिशनरी से बचाया गया उनमे 4 साल से लेकर 16 साल तक के बच्चे है, जिनका मेडिकल करवाकर उनको पंचकुला और यमुनानगर के सरकारी शेल्टर होम में भेज दिया गया है, वहीँ इसाई मिशनरी के आदमी फिलिप लाल मसीह के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है

जानकारी ये भी है की ये अनाथालय मानवता के नाम पर जो चल रहा था इसका मुख्य काम हिन्दू बच्चों को टारगेट करके धर्मांतरण करना था, और ये अनाथालय रजिस्टर्ड भी नहीं था, पुलिस का कहना है की अब आगे की कार्यवाही की जाएगी

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!