Press "Enter" to skip to content

1984 मामलों में मोदी ने बनाई SIT, शुरू हुआ न्याय – आज 1 को फांसी की सजा 1 को उम्रकैद

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Modi doing justice to sikhs in 1984 cases
Modi doing justice to sikhs in 1984 cases

Modi doing justice to sikhs in 1984 cases : 1984 में दिल्ली और देश के कई इलाकों में भी 10 हज़ार के आसपास सिखों का कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने नरसंहार करवाया था 

इस मामले में अब न्याय की शुरुवात हो गयी है, जबतक कांग्रेस सत्ता में थी इस मामले में 1 को भी सजा नहीं हुई, और अदालतों में ये मामला ऐसे ही लटका रहा, मोदी सरकार बनी तो 1984 के मामलों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने SIT को गठित किया और अब जाकर मोदी के शासन काल में सिखों को न्याय मिलना शुरू हुआ है


आज पटियाला हाउस कोर्ट ने 1984 के मामले में 1 को फांसी की सजा सुनाई है और 1 को उम्रकैद की सजा दी गयी है, इसमें यशपाल सिंह को फांसी की सजा दी गयी है जब्कियो नरेश सहरावत को उम्रकैद की सजा सुनाई गयी है

loading...

हालाँकि ये सजा अभी निचली अदालत ने सुनाई है ये लोग उपरी अदालतों में जा सकते है, पर मोदी राज में 1984 दंगा मामले में सिखों को न्याय की शुरुवात हो गयी है

कांग्रेस पार्टी के नेता राजीव गाँधी ने 1984 में सिखों के नरसंहार को बिलकुल जायज बताया था, राजीव गाँधी से लेकर कांग्रेस के बड़े बड़े नेता सिखों के खिलाफ हुए दंगों में शामिल थे, इनके से कई नेता मर गए तो कई आज भी जिन्दा है

loading...

इस मामले में सिखों को कभी कोई न्याय ही नहीं मिला, अब इतने सालों के बाद पहली बार न्याय की शुरुवात हुई है, और सिखों को न्याय तब मिला जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1984 मामले में SIT का गठन किया

न्याय की शुरुवात हो गयी है, अब बड़े बड़ों का भी नंबर आएगा, ये मामला कांग्रेस के शासन में दबा ही दिया गया, पर अब न्याय की आस है, आज 1 को फांसी और 1 को उम्रकैद मिल चूका है, बड़े बड़े कांग्रेसियों का भी नंबर लगना बाकी है

 

 

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!