Press "Enter" to skip to content

देश बचाने के लिए अड़ गए भगवा संत विराथु, बोले – रोहिंग्या को वापस आना है तो छोड़ना होगा इस्लाम, वरना होंगे और भीषण अंजाम”

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Monk Wirathu on Rohingyas return
Monk Wirathu on Rohingyas return

Monk Wirathu on Rohingyas return : रोहिंग्या बेहद खूंखार मानसिकता के कट्टरपंथी होते है, ये इतना खूंखार होते है की जहाँ जाते है वहां जिहाद फैलाते है, कोई मुस्लिम देश भी रोहिंग्यों को रखने को तैयार नहीं है, और कारण है इनके बच्चा करने की दर, जो इनके समाज का अभिन्न हिस्सा बन गया है, इनकी आदत बन गयी है 

रोहिंग्यों ने म्यांमार के राखिने प्रान्त को इस्लामिक स्टेट बनाने के लिए तेजी से प्रजनन को अपना हथियार बना लिया, फिर बौद्धों पर अत्याचार करने लगे, सबसे ज्यादा निशाने पर बौद्ध और हिन्दू लड़कियां रहने लगी, भगवा संत विराथु ने आन्दोलन चलाया और बड़े पैमाने पर राखिने प्रान्त से रोहिंग्या नामक कैंसर को साफ़ किया


अधिकतर रोहिंग्या बांग्लादेश भागे, बाकि बहुत से रोहिंग्या अन्य देशों में भी गए, भारत में भी 7 लाख रोहिंग्या घुसे हुए है, और यहाँ हर रोहिंग्या औरत औसतन 12 से ज्यादा बच्चे दे रही है, सही मायनो में इन लोगो ने जानवरों को पीछे छोड़ा हुआ है, फिर भी भारत के शत्रु इनको भारत के अन्दर ही बनाये रखने के लिए संघर्ष चला रहे है

loading...

पर बांग्लादेश और बहुत से अन्य देशों ने म्यांमार से बात की है, और म्यांमार पर अपने नागरिको को वापस लेने का भी दबाव है, म्यांमार की सरकार रोहिंग्यों को वापस लेने को भी तैयार होने लगी है

पर अब भगवा संत विराथु ने इसका विरोध कर दिया है, भगवा संत विराथु का प्रभाव म्यांमार में सरकार से भी ज्यादा है, क्यूंकि जनता उनके साथ है

भगवा संत विराथु ने रोहिंग्यों को वापस म्यांमार में बसाए जाने का विरोध किया है, उन्होंने कहा की – अगर रोहिंग्या यहाँ आएंगे, तो फिर से वो कट्टरपंथ और जिहाद में लग जायेंगे, जिस से म्यांमार के लोगो का जीवन बहुत मुश्किल हो जायेगा, और देश बर्बादी की ओर बढेगा

भगवा संत विराथु ने कहा है की – अगर रोहिंग्या वापस बुलाये जाते है तो फिर अंजाम और बुरा होगा, रोहिंग्यों के खिलाफ आन्दोलन को फिर से शुरू किया जायेगा, और इस बार पिछली बार से भी ज्यादा बड़ा आन्दोलन किया जायेगा

loading...

Monk Wirathu on Rohingyas return : भगवा संत विराथु से कुछ लोगो ने कहा की – इतने सारे रोहिंग्या है, वो राखिने में ही रहते थे, वो जायेंगे कहा – इसपर भगवा संत विराथु ने कहा की रोहिंग्या भी सबकी तरह इन्सान है, पर फर्क मानसिकता का है, रोहिंग्यों को वापस आना है तो इसके लिए उन्हें इस्लाम छोड़ना पड़ेगा, वो इस्लाम छोड़ने और सामान्य मनुष्य की तरह रहने को तैयार होते है उसी सूरत में उनकी वापसी के बारे में सोचा जायेगा

भगवा संत विराथु ने रोहिंग्यों की वापसी का विरोध कर दिया है, हालाँकि म्यांमार सरकार का भी कहना है की वो भगवा संत विराथु से बात कर रही है, और देश के लिए जो सबसे बेस्ट होगा वही किया जायेगा

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!