Press "Enter" to skip to content

पहले कहा – कश्मीर नहीं चाहिए, संभालने की औकात नहीं, अब कह रहा – कश्मीर हमारा है, लेके रहेंगे

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Shahid afridi on Kashmir
Shahid afridi on Kashmir

Shahid afridi on Kashmir : इतिहास किस लिए होता है ? सीखने के लिए – हमरे पूर्वज, हमारे गुरु सिखा कर गए है की कट्टरपंथियों की जबान पर कभी भरोसा नहीं करना चाहिए, भले ही वो अपने मजहबी आसमानी किताब की हजारों कसमे भी खा ले 

एक भारतीय गुरु ने कहा था की – तेल के डिब्बे में हाथ डालो, और फिर उस हाथ लो तिल की बोरी में डालो, जितने तिल तुम्हारे हाथ से चिपक जाये, उतनी बार किसी कट्टरपंथी पर भरोसा मत करना, यानि कट्टरपंथी पर कभी भरोसा नहीं करना चाहिए


अपनी ही बहन के शौहर, और अपने बच्चों के अब्बा के साथ मामा भी – हम बात कर रहे है शाहिद अफरीदी की – ये लन्दन में था, तब कमरे के अन्दर इसने कहा की – हमे कश्मीर नहीं चाहिए, कश्मीर का हम क्या करेंगे, पाकिस्तान तो खुद अपने राज्यों को नहीं संभाल पा रहा है, इसने नहीं सोचा था की रिकॉर्डिंग हो रही है

loading...

पहले इसका विडियो देखिये – ये खुद कह रहा है की हमे कश्मीर नहीं चाहिए, संभाल पाने की हमारी औकात नहीं है

बाद में इसका ये विडियो वायरल हो गया, और जब इसे पाकिस्तान के कट्टरपंथियों ने गाली दी, तब देखिये कैसे एक पक्के कट्टरपंथी की तरह ये अपनी जबान से पलट गया

अब इसका कहना है की – इसके बयान को तोड़ मरोड़ कर दिखाया गया, भारत अत्याचारी है, कश्मीर तो हमारा है, हम कश्मीर की आज़ादी के लिए सपोर्ट करते रहेंगे

loading...

अपनी ही बहन का शौहर, अपनी ही बहन से शारीरिक संबंध बनाने वाला ये जाहिल, जो की अपने ही बच्चों का अब्बा के साथ साथ मामा भी है, ये किस प्रकार का कट्टरपंथी है ये आप देख चुके है

हमारे गुरुओं ने ठीक ही कहा था, ये कट्टरपंथी अपने मजहबी आसमानी किताब का हजारों बार भी कसम खा ले फिर भी इन कट्टरपंथियों की जबान पर कभी भरोसा नहीं करना है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!