Press "Enter" to skip to content

सरकार राम की मूर्ति नहीं बना सकती ये साम्प्रदायिकता है, भारत एक सेक्युलर देश है : तुफैल अहमद

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+
Pin on Pinterest
Pinterest

कृपया शेयर जरुर करें
Tufail ahmad on ram statue
Tufail ahmad on ram statue

Tufail ahmad on ram statue : कई सारे कट्टरपंथी तो खुलें कट्टरपंथ और मजहबी नफरत फैलाते है, आर बहुत से कट्टरपंथी अल तकिया भी करते रहते है, पर सबके सब कट्टरपंथी जो की इस विदेशी मजहब से ताल्लुक रखते है, उन सबकी मानसिकता एक ही है 

खबरें चल रही है की योगी आदित्यनाथ दीपावली पर अयोध्या में जाकर भगवान् राम की 151 या 201 मीटर ऊँची मूर्ति बनाने का ऐलान कर सकते है, ये मूर्ति सरयू नदी के किनारे बननी है, मूर्ति तो बननी ही है, कितनी हाइट होगी ऐलान बस इसी का किया जाना है


इसपर तुफैल अहमद भड़क गया और भड़कते हुए तुफैल अहमद ने भगवान् राम की मृति का विरोध करना शुरू कर दिया और इसे साम्प्रदायिकता बता दिया

loading...

भगवान् राम की मूर्ति पर तुफैल अहमद ने कहा की – भारत एक सेक्युलर देश है, यहाँ पर कोई सरकार राम की मूर्ति नहीं बना सकती, ये साम्प्रदायिकता है, राम की मूर्ति बनानी है तो प्राइवेट पैसे से बनाओ, सरकार के पैसे से राम की मूर्ति नहीं चलेगी

Tufail ahmad on ram statue
Tufail ahmad on ram statue

तुफैल अहमद का कहना है की राम की मूर्ति बनाया जाना टैक्स देने वालों के पैसे का दुरूपयोग है, ये नहीं बन सकती, बनाना है तो प्राइवेट पैसे से बनाओ

loading...

वैसे आपको बता दें की इसी देश में हज हाउस सरकारी पैसे से बन सकता है, देश में सेकुलरिज्म का बलात्कार करते हुए अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय चल सकता है, मुसलमानों के लिए अलग अलग स्कीम चल सकती है, हज की सब्सिडी सालों साल दी जा सकती है

सबकुछ जायज है मुसलमानों के लिए सरकारी पैसे से, पर तुफैल अहमद के अनुसार बस मूर्तियाँ नहीं बन सकती, बनाना है तो प्राइवेट पैसे से हिन्दू अपनी मूर्तियाँ बनाये, हां सरकारी पैसा सिर्फ हज हाउस, मदरसे, और मुसलमानों के लिए ही है

Comments are closed.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!