अन्य खबरकडवी बातताज़ा खबर

कई बड़े घोटालो के आरोपी के साथ देश के CJI, कैसे किया जाये अब अदालतों पर भरोसा, बर्बाद हो रहा देश

Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on Google+
Google+

इसे शेयर जरुर करें
Ranjan gogoi with P Chidambaram
Ranjan gogoi with P Chidambaram

Ranjan gogoi with P Chidambaram : क्या सिस्टम बनाया कांग्रेस ने, इस देश के कुछ ही परिवार देश की अदालतों को संचालित करते है, हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट में जज कॉलेजियम सिस्टम से बनते है 

जज कौन बनेगा ये जज ही तय करेंगे, अपने लोगो को बनाये रखना ये ही पूरा सिस्टम है, अब देश की अदालतों में जो निर्णय हो रहे है उनको लेकर देश के लोगों का भरोसा अदालतों से उठता ही जा रहा है जो की लोकतंत्र के लिए खतरनाक है


सुप्रीम कोर्ट कहती है की किसी भी धार्मिक स्थल पर महिला पुरुष में लिंग के आधार पर भेद नहीं किया जा सकता, सबरीमाला पर फैसला सुनाया, कुछ महिलाओं ने केरल हाई कोर्ट में सुप्रीम कोर्ट के इसी फैसले के आधार पर मस्जिदों में जाने की इज़ाज़त मांगी, पर उसे नकार दिया गया

देश की अदालतें धर्म देखकर फैसले कर रही है, अलग अलग धर्म पर अलग अलग फैसले, 1 फैसला, कानून सबके लिए बराबर, ये बस एक जोक ही बनकर रह गया है

loading...

चिदंबरम एक ऐसा कांग्रेसी नेता है जिसपर हजारों करोड़ के घोटालों के आरोप है, कई मामलों में चिदंबरम के खिलाफ जांच चल रही है, उसके बेटे, उसकी बीवी, उसकी बहू, इनके पुरे परिवार के खिलाफ जांच चल रही है, वैसे हर जगह से इनको कोर्ट राहत दे देती है पर फिर भी इनके खिलाफ मामले तो चल ही रहे है

ऊपर की तस्वीर आप देखिये – हजारों करोड़ रुपए के घोटालों के आरोपी चिदम्बरम के साथ देश के CJI, वो भी किस मुद्रा में वो भी देखिये, दोनों दोस्त की तरह बैठे हुए है, इसमें से एक शख्स वो है जिसपर घोटालों के आरोप है, और दूसरा शख्स वो है जो की एक जज है, पर दोनों के बीच रिश्ते को इनके चेहरे से ही समझा जा सकता है

loading...

अब आप स्वयं ही तय कीजिये की क्या हमारी अदालतों पर ये सब देखकर लोगो का भरोसा बना रहेगा, देश की अदालतें बर्बाद हो रही है और ये लोकतंत्र के लिए खतरनाक है

Ranjan gogoi with P Chidambaram : इस देश की अदालतों में जो भी गन्दगी घुसी हुई है उसे ठीक करने की जिम्मेदारी अब देश पर ही है, अदालतों में जो सिस्टम चल रहा है उसमे भारी बदलाव की जरुरत है, ताकि देश के लोगों का भरोसा अदालतों पर बना रहे और देश का लोकतंत्र मजबूती से चल सके

Loading...

Related Articles

error: Content is protected !!
Close